शेयर बाजार में लाभ के टोटके

ब्रोकर कैसे बनें

ब्रोकर कैसे बनें

शेयर मार्केट में ब्रोकर कैसे बने ?

सब-ब्रोकर वह व्यक्ति है जो स्टॉक एक्सचेंज का ट्रेडिंग मेंबर(ब्रोकर) नहीं है, लेकिन जो ट्रेडिंग मेंबर की ओर से एजेंट के रूप में काम करता है या ऐसे ट्रेडिंग मेंबर्स के जरिए सिक्योरिटीज में डील करने में निवेशकों की मदद करता है |

सेबी रजिस्टर शेयर ब्रोकर अपने बिज़नेस को बढ़ाने के लिए अपने अंडर कुछ ब्रोकर / एजेंट नियुक्त करता है | उसे सब-ब्रोकर कहा जाता है |

सब-ब्रोकर को नए ग्राहक ढूढ़ के उनका dmat और ट्रेडिंग अकाउंट बनाना होता है | वो ग्राहक को जो सर्विस है वो मेन ब्रोकर आपके जरिये देता है | अपना काम कंपनी के एम्प्लॉई जैसे होता है लेकिन इसके लिए हमें सैलरी के बजाय जो हमने अपने ग्राहक के जरिये कमीशन हुआ है |

उसका कुछ हिस्सा हमें दिया जाता है | ये हिस्सा हम जब सबब्रोकर बनते समय कंपनी और अपने बिच जो शेयरिंग रेश्यो तय किया गया होगा | उस हिसाब से दिया जाता है |

सब ब्रोकर बनने के लिए पात्रता निकष क्या है ?

हमें सेबी से रजिस्ट्रेशन कर के सब ब्रोकर का सर्टिफिकेट लेना पड़ता है |

हम जब सब ब्रोकर बनने के लिए किसी ब्रोकिंग कंपनी से मिलते है | तो हमें सेबीने जो गाइड लाइन बनाई है | उस हिसाब से हम डॉक्यूमेंट तैयार कर के ब्रोकिंग कंपनी को दे के सेबी से रजिस्ट्रेशन करना होता है |

इसके लिए लगनेवाले डॉक्यूमेंट

  • एड्रेस प्रूफ – जिस नाम से लाइसेंस लेना है उसका |
  • मिनिमम क्वालिफिकेशन – HSC (१२ कक्षा पास ) इससे कम शिक्षा हो तो एक्सपीरियन्स ब्रोकर कैसे बनें सर्टिफिकेट (कैपिटल मार्केट का )
  • इससे साथ केवायसी डॉक्यूमेंट – (फोटो, पैन कार्ड, बैंक डिटेल्स इत्यादि ) आपको ये डॉक्यूमेंट आप जिस ब्रोकर के साथ काम करनेवाले उसके हिसाब से कम ज्यादा हो सकते है |
  • सेबी रजिस्ट्रेशन फी (उस समय जो होगी १०००० के आसपास )
  • डिपाजिट -ये कंपनी हमसे लेती है | हर कंपनी अलग अलग डिपाजिट लेती है | कमसे कम ५०,०००
  • कमीशन – ५०-५० , ६०-४० , ७०-३० ऐसे रेश्यो में तय होता है | ७०-३० रेश्यो तय होता है तो कमीशन का ७० प्रतिशत आपको मिलता है और बाकि बचा कंपनी का होता है |
  • सॉफ्टवेयर या बाकि फ़ीस – कंपनी के पॉलिसी के ऊपर तय होता है | कोई मंथली चार्जेस आपको देने है या नहीं ये आप पूछ कर ले |

कोनसी ब्रोकिंग कंपनी का सब ब्रोकर बनना चाहिए ?

मार्केट में जो रजिस्टर ब्रोकिंग कंपनी है वो सभी सब-ब्रोकर अपॉइंट कराती है | आपको ये समझ नहीं आता है किसके साथ जुड़ना अपने लिए अच्छा है|

आप के लिए ये सबसे महत्वपूर्ण कदम साबित होने वाला है | इसके लिए आपको अच्छी तरह से रिसर्च करनी होगी एक बार आप एक ब्रोकिंग कंपनी के साथ काम करना शुरू करते है |

उसके बाद उसे बदलना मुश्किल होता है | आप कभी भी पहला लाइसेंस कैंसिल कर के दूसरे कंपनी के साथ जुड़ सकते है | लेकिन प्रॉब्लम ये आती है के जो इन्वेस्टर के अकाउंट बनाके आप पुरानी कंपनी के साथ काम कर रहे है | उनको शिफ्ट करते वक्त बहुत तकलीफ होती है |

इंडिया का नंबर वन ब्रोकर कौन है?

इसे सुनेंरोकेंस्टॉक ब्रोकर एक विनियमित व्यावसायिक व्यक्ति होता है, जो आम तौर पर ब्रोकरेज फर्म या ब्रोकर-डीलर से जुड़ा होता है, जो बदले में शुल्क या कमीशन के लिए स्टॉक एक्सचेंज के माध्यम से या काउंटर पर रिटेल और संस्थागत ग्राहकों दोनों के लिए स्टॉक और अन्य प्रतिभूतियों को खरीदता है और बेचता है।

दलाल का क्या आशय है?

इसे सुनेंरोकेंदलाल अरबी [संज्ञा पुल्लिंग] 1. व्यापारिक लेन-देन या अन्य सौदों में मध्यस्थता करके लाभ कमाने वाला व्यक्ति ; बिचौलिया ; आढ़ती ; (एजेंट) 2. संभोग के लिए स्त्री-पुरुष का मिलन कराने वाला ; कुटना 3. पारसियों की एक जाति।

इसे सुनेंरोकेंशेयरखान भारत में ऑनलाइन शेयर ट्रेडिंग के सबसे पुराने सर्वश्रेष्ठ- ब्रोकर में से एक है। हलांकि यह हाल ही में 2200 करोड़ में बीएनपी परिबास को बेच दिया गया है, इसके बाद भी इसके काम करने के तरीके में कोई बदलाव नहीं आया है।

सबसे अच्छा स्टॉक ब्रोकर कौन सा है?

  1. 1 शेयर खान :(ShareKhan)
  2. 2 आईसीआईसीआई डायरेक्ट :(ICICI Direct Securities)
  3. 3 मोतीलाल ओसवाल :(Motilal Oswal)
  4. 4 एंजेल ब्रोकिंग :(Angel Broking)
  5. 5 IIFL सिक्योरिटीज :(IIFL Securities)
  6. 6 SBI Cap सिक्योरिटीज :(SBI Cap Securities)
  7. 7 रेलिगेयर ब्रोकिंग :(Religare Broking)
  8. 8 एक्सिस डायरेक्ट :(Axis Direct Securities)

कैसे भारत में शेयर दलाल बनने के लिए?

इसे सुनेंरोकेंअगर आप भी शेयर मार्किट में अपने पैसे को निवेश करना चाहते हो और ढेर सारा पैसा कमाना चाहते है तो आपको एक डीमैट अकाउंट और ट्रेडिंग अकाउंट की जरूरत होती है जोकि एक स्टॉक ब्रोकर के द्बारा की खोले जाते है। और यह दोनों अकाउंट एक ही ब्रोकर खोल देता है।

शेयर मार्केट ब्रोकर कैसे बने?

इसे सुनेंरोकेंअगर आप Share Market में कदम रखना चाहते हैं तो एक Demat Account और एक Trading Account की जरुरत पड़ती है और इन दोनों ही अकाउंट को एक Stock Broker ही खोल सकता है। किसी भी इन्वेस्टर के Buy या Sell के आर्डर को स्टॉक एक्सचेंज तक पहुंचाने का काम स्टॉक ब्रोकर का ही होता है।

दलाल शब्द का क्या अर्थ है?

इसे सुनेंरोकें- 1. व्यापारिक लेन-देन या अन्य सौदों में मध्यस्थता करके लाभ कमाने वाला व्यक्ति; बिचौलिया; आढ़ती; (एजेंट) 2.

शेयर मार्केट का ब्रोकर कैसे बने?

इसे सुनेंरोकेंदोस्तों आप भी स्टॉक ब्रोकर बनना चाहते है तो स्टॉक ब्रोकर बनने के आप कोई भी financial market course कर सकते है। इसके साथ आपके पास commerce, economics, statistics, accountancy या Business Administrator की knowledge भी आपको मदद करेगी। आप इन subjects की graduation या post graduation की degree भी ले सकते है।

ब्रोकिंग हाउस के सब ब्रोकर कैसे बने?

इसे सुनेंरोकेंबुनियादी जानकारी दें शुरुआत में चुने गए ब्रोकिंग फर्म से कॉलबैक (Call back) का अनुरोध करें। फोन पर ही आपके बारे में, पढ़ाई-लिखाई (Education) के बारे में तथा पहले के कामकाज (Job or Profession) के बारे में जानकारी ली जाएगी। इसके साथ ही कुछ बुनियदी सवाल (Basic Questions) भी पूछे जाएंगे।

शेयर मार्केट में करना है काम तो ऐसे बने स्टॉक ब्रोकर

शेयर मार्केट की दुनिया में अक्सर लोग पैसा लगाकर ही मुनाफा कमा पाते हैं लेकिन आप अपने टैलेंट के दम पर यहाँ अपना करियर बना सकते हैं. शेयर मार्केट के अंदर एक खास करियर (Stock Broker kaise bane?) ऑप्शन स्टॉक ब्रोकर है. जिसमें करियर बनाकर आप खूब सारा पैसा कमा सकते हैं.

By रवि नामदेव On Aug 23, 2022 588 0

शेयर मार्केट आपको इतना पैसा कमाकर दे सकता है जितना आप पूरी ज़िंदगी में नहीं कमा सकते. वहीं दूसरी ओर आप इसमें पैसा लगाकर बुरी तरह कर्ज में भी डूब सकते हैं. लेकिन यदि आप इसमें करियर बनाना चाहते हैं तो आप स्टॉक ब्रोकर बनकर (Stock Broker Career) खुद भी मुनाफा कमा सकते हैं और दूसरों को भी कमाकर दे सकते हैं.

शेयर मार्केट की दुनिया में अक्सर लोग पैसा लगाकर ही मुनाफा कमा पाते हैं लेकिन आप अपने टैलेंट के दम पर यहाँ अपना करियर बना सकते हैं. शेयर मार्केट के अंदर एक खास करियर (Stock Broker kaise bane?) ऑप्शन स्टॉक ब्रोकर है. जिसमें करियर बनाकर आप खूब सारा पैसा कमा सकते हैं.

स्टॉक ब्रोकर क्या होता है?(What is Stock Broker?)

स्टॉक ब्रोकर को समझने के लिए पहले आप ये समझिए कि भारत में आप स्टॉक कैसे खरीदते हैं?

कोई कंपनी जब अपना शेयर लाती है तो वो शेयर मार्केट में लिस्ट होता है. इस शेयर को खरीदने और बेचने का काम करती है ब्रोकरेज फर्म. इन ब्रोकरेज फर्म पर बल्क में कंपनियों के शेयर होते हैं.

इन ब्रोकरेज फर्म में ही काम करते हैं स्टॉक ब्रोकर. स्टॉक ब्रोकर का काम होता है आम लोगों के लिए शेयर को खरीदना और बेचना. मतलब आप कोई शेयर खरीदना चाहते हैं तो आपको स्टॉक ब्रोकर को ही कहना होगा और साथ ही बेचने के लिए भी आपको उसी को कहना होगा.

स्टॉक ब्रोकर इसके अलावा आपको दूसरे स्टॉक भी सजेस्ट करते हैं. स्टॉक ब्रोकर कमीशन और सैलरी दोनों के आधार पर कार्य करते हैं.

अतः स्टॉक ब्रोकर एक ऐसा व्यक्ति होता है जो शेयर की खरीद और बिक्री का कार्य करता है.

स्टॉक ब्रोकर के लिए योग्यता (Stock Broker Eligibility)

स्टॉक ब्रोकर बनने के लिए आपको शेयर मार्केट की बेसिक स्किल्स के बारे में अच्छी तरह पता होना चाहिए. क्योंकि आपको जिस जगह पर काम करना है उसके बारे में पहले से जानकारी होना चाहिए.

आपने फाइनेंस, कॉमर्स या अकाउंटेनसी में ग्रेजुएशन करना होता है. क्योंकि इनमें आपको अच्छे से शेयर मार्केट के बारे में समझाया जाता है.

आपकी कम्यूनिकेशन स्किल बहुत अच्छी होनी चाहिए. आपमें लोगों को कन्वेंस करने का गुण होना चाहिए.

आपकी गणित और रिजनिंग बहुत ही स्ट्रॉंग होनी चाहिए. क्योंकि शेयर मार्केट में सारा खेल आंकड़ों ब्रोकर कैसे बनें का है.

स्टॉक ब्रोकर कैसे बने? (How to become stock broker?)

स्टॉक ब्रोकर बनने के लिए आपके अंदर जरूरी योग्यता है तो आप नीचे दिए गए सर्टिफिकेट कोर्स को करके स्टॉक ब्रोकर बनने की ओर अपना कदम बढ़ा सकते हैं.

NSE’s Certification In Financial Markets
NSE’s Certified Market Professional
Certificate Program On Capital Markets
A PG Diploma In Capital Market And Financial Services
Post Graduate Diploma In Fundamentals Of Capital Market Development

स्टॉक ब्रोकर बनने के लिए बेस्ट कॉलेज (Stock broker best college)

भारत में यदि आप स्टॉक ब्रोकर बनना चाहते हैं और इन कोर्स में एडमिशन लेना चाहते हैं तो आपको ये सारे कोर्स नीचे दिए गए कॉलेज में मिल जाएंगे.

Institute Of Company Secretaries Of India
Institute Of Capital Market Development
All India Center For Capital Market Studies
Mumbai Stock Exchange Training Institute
Institute Of Financial And Investment Planning
Institute Of Chartered Financial Analysts Of India
The Orion Institute Of Capital Market
The UTI Institute Of Capital Market

स्टॉक ब्रोकर कितना कमा सकता है? (Stock broker salary)

Stock Broker बनना कोई हंसी खेल नहीं है. इसमें एंट्री पाना तो आपके लिए आसान रहेगा लेकिन यहाँ टिके रहना मुश्किल है. इसमें शुरुआती तौर पर आप सैलरी के रूप में 20 से 25 हजार रुपये प्रतिमाह कमा सकते हैं.

जब आपको अनुभव हो जाता है और आप सीख जाते हैं कि कब कौन सा शेयर ऊपर जाने वाला है और कौन सा शेयर नीचे आने वाला है तो आप उनमें निवेश करके खुद भी मुनाफा कमा सकते हैं. इसमें कमाई की कोई सीमा नहीं है.

भारत में किसी स्टॉक में निवेश करने का काम काफी हद तक ऑनलाइन हो चुका है और लोग अपनी मर्जी से अपने फोन या कंप्यूटर से पैसा निवेश करके अपनी पसंद का शेयर खरीद लेते हैं. लेकिन स्टॉक ब्रोकर का रोल फिर भी महत्वपूर्ण होता है. क्योंकि ये ही आपको बताता है कि ये नया शेयर आया है आप इसमें निवेश कीजिए, कौन सा शेयर आपके लिए फायदेंमंद रहेगा. ये सारी जानकारी बिना स्टॉक ब्रोकर के आपको नहीं मिल पाती है. साथ ही आपके Demat account को मैन्टेन करने का काम भी एक स्टॉक ब्रोकर ही करता है.

एक सफल रियल एस्टेट एजेंट कैसे बने, जानिए कुछ महत्वपूर्ण टिप्स ब्रोकर कैसे बनें | Property Dealer kaise bane

जो जितनी बड़ी डील करवाता है उसे उतना ही ज्यादा पैसा मिलता है। जैसे मान लीजिए आपने एक करोड़ का एक फ्लैट बिकवाया तो उसका 1% कमिशन आपको मिलता है यानी की 1 लाख रूपए इसके साथ ही यह कमीशन आपको बायर भी देता है और सैलर भी।

तो आपको कुल मिलता है 2% मतलब सीधे 2 लाख रुपए। अगर आपने महीने की सिर्फ एक डील करवा ली तो आपको सीधे सीधे दो लाख रुपए मिल जायेंगे।

जो लोग इस फील्ड में कई ब्रोकर कैसे बनें सालों से हैं वो एक दिन में एक डील करवा देते हैं। तो आप उनकी कमाई का अंदाजा लगा सकते हैं की एक महीने में कितना कमाया जा सकता है।

रियल एस्टेट ब्रोकर का काम क्या होता है Work Of Real Estate Agent In Hindi

अधिकतर रियल एस्टेट ब्रोकर इसीलिए असफल होते हैं क्योंकि उनको सही और गलत प्रॉपर्टी का ज्ञान नहीं होता और वो कागज चेक करवाने का जिम्मा सिर्फ बॉयर पर डाल देते हैं।

जबकि रियल एस्टेट ब्रोकर का काम ही होता है की पेपर की जांच करने के बाद ही पार्टी को प्रॉपर्टी दिखवाए। इसी चीज का तो ब्रोकर को कमिशन मिलता है।

रियल एस्टेट के लिए ग्राहकों को कैसे ढूंढे How To Search Client For Real Estate Business In Hindi

इस बिजनेस का सबसे महत्वपूर्ण भाग है की आपके क्लाइंट आपको कहां से मिलेंगे। कैसे पता चले की कोई प्रॉपर्टी खरीदना चाह रहा है या बेचना। वैसे यह बहुत ही आसान काम है बताते हैं कैसे

1) अगर आपके पास एक छोटा सा ऑफिस है तो यह बहुत ही अच्छा होगा। क्योंकि आपके ऑफिस के बाहर लगा बोर्ड देखकर लोग खुद ही आपसे संपर्क कर लेंगे।

अगर आपके पास ऑफिस नहीं है तो आप घर से ही ये काम शुरू कर सकते हैं और अपने बारे में लोगों को बताने के लिए आप पेपर में पर्चे लगवा सकते हैं

2) अगर थोड़ा और खर्च करना चाहें तो होर्डिंग भी लगवा सकते हैं। इससे आपके ग्राहक आपको खुद ढूंढते हुए आयेंगे।

3) आप अपने शहर के रियल एस्टेट ब्रोकर्स के ग्रुप को ज्वाइन कर सकते हैं। इससे आपको ये पता चल पायेगा की कौन प्रॉपर्टी खरीद या बेच रहा है। आपको क्लाइंट मिलने में अधिक मेहनत नहीं करना पड़ेगा।

4) आप कुछ वेबसाइट्स के माध्यम से भी क्लाइंट ढूंढ सकते हैं जैसे मैजिक ब्रिक्स, 99 एकड़, क्विकर, Olx ईत्यादि।

इन सब वेबसाइट्स पर जा कर आप बहुत ही आसानी से अपने एरिया में खरीदने और बिकने वाली प्रॉपर्टी का पता लगा सकते हैं और क्लाइंट से सीधे सम्पर्क कर सकते हैं।

5) आप सोशल मीडिया में एड दे कर भी अपने बिजनेस के लिए खरीदार या सैलर को ढूंढ सकते हैं। जैसे फेसबुक, इंस्टाग्राम, ट्विटर, ब्लॉग, यूट्यूब ईत्यादि।

7) आस पास के लोगों से मेल जोल बढ़ाए और मिलनसार रहें। इससे वो लोग आपके बिजनेस के बारे में जानेंगे और अगर उन्हें कभी प्रॉपर्टी की जरूरत हुई तो वो आपको ही संपर्क करेंगे।

अगर आपने कोई फर्म खोली है तो उसका रजिस्ट्रेशन ज़रूर करवाएं Property Dealer Kaise Bane

लोग प्रॉपर्टी की खरीद और बिक्री में बहुत गड़बड़ी करने लगे थे इसलिए सरकार ने अब रजिस्ट्रेशन अनिवार्य कर दिया है।

कैसे बनें एक सफल रियल एस्टेट एजेंट How To Become A Successful Property Dealer In Hindi


एक सफल रियल एस्टेट ब्रोकर बनने के लिए आपको किसी कोर्स की आवश्कता नहीं होती। अगर आप पांचवीं पास हैं तो भी आप ये काम कर सकते हैं। बस आपको कुछ चीजें पता होनी चाहिए


1) सबसे पहले की आपको बातचीत करने में कभी संकोच नहीं करना चाहिए। अगर आप बातचीत में निपुण हैं तो सोने पे सुहागा।


2) सबसे अच्छा ये होगा की आप किसी रियल एस्टेट कंपनी में साल भर काम कर लें। भले ही वो आपको कितना कम पैसा दें लेकिन आपको जो अनुभव मिलेगा वो बहुमूल्य होगा।


3) प्रॉपर्टी के सारे पेपर कैसे देखे जाते हैं और क्या क्या कागजात की जरूरत होती है इसकी भी जानकारी हासिल कर लें। ताकि आपको सही और गलत कागजों की जानकारी हो पाए।


4) अपने आस पास के लोगों से बना कर रखें और उन्हें अपने काम के बारे में बताएं ताकी उन्हें अगर भविष्य में प्रॉपर्टी की जरूरत हो तो वो आपको सम्पर्क कर सकें।


5) शहर के रियल एस्टेट ब्रोकर्स के सम्पर्क में रहें ताकि अगर कोई प्रॉपर्टी खरीदने या बिकने के लिए हो तो आपको पता चल सके।

BSE ब्रोकर फोरम का इंडिया इंवेस्टर शो 2021 आज से शुरू, अनिल सिंघवी से जानें कैसे बनें जागरुक निवेशक

BSE Broker Forum: निवेशकों को फ्रॉड्स से बचाने के लिए SEBI यानी सिक्योरिटी एक्सचेंज ऑफ इंडिया की अगुवाई में इंवेस्टर वीक मनाया जाता है. इसी सिलसिले में आज से बीएसई ब्रोकर फोरम की शुरुआत हो गई है.ब्रोकर कैसे बनें

BSE Broker Forum: कोरोना काल के दौरान लोगों ने बढ़-चढ़कर शेयर बाजार में हिस्सा लिया और डीमैट (Demat) अकाउंट्स खुलवाए. मौजूदा समय में ऑनलाइन फाइनेंशिलय सर्विसेज प्रोवाइड करने वाली कंपनियों के जरिए भी शेयर बाजार में पैसा लगाया जा रहा है. हालांकि इसमें रिस्क भी है क्योंकि कई बार इसके जरिए ऑनलाइन फ्रॉड के मामले भी सामने आए हैं. निवेशकों को इन्हीं फ्रॉड्स से बचाने के लिए SEBI यानी सिक्योरिटी एक्सचेंज ऑफ इंडिया की अगुवाई में इंवेस्टर वीक मनाया जाता है.

हर साल मनाया जाता है Investor Week

SEBI हर साल निवेशकों को जागरुक बनाने के लिए इंवेस्टर वीक का आयोजन करता है. ये इंवेस्टर वीक इसलिए मनाया जाता है ताकि निवेशकों को शेयर बाजार और पूरे सिक्योरिटीज मार्केट के बारे में ज्यादा से ज्यादा जानकारी दी जा सके.

Zee Business Hindi Live यहां देखें

शेयर बाजार में पैसा लगाने के लिए पहले बाजार की चाल को समझना जरूरी होता है. ऐसे में जो भी लोग शेयर बाजार में पैसा लगा रहे हैं, उनका समझदार और जागरुक होना बहुत जरूरी है. इतना ही नहीं निवेशक का समझदार होना पूरे कैपिटल मार्केट के लिए भी जरूरी है.

BSE Broker Forum

निवेशकों को जागरुक करने के उद्देश्य से इस साल भी हर साल की तरह BSE ब्रोकर फोरम ने इंडिया इंवेस्टर शो नाम से इस कार्यक्रम का आयोजन किया है. ये कार्यक्रम 3 दिन तक चलेगा और आज से इसकी शुरुआत हो चुकी है. इसमें तीनों स्टॉक एक्सचेंजों के CEOs शामिल होंगे.

इसके अलावा NSDL और CDSL डिपॉजिटरीज के MD और CEO भी हिस्सा ले रहे हैं. ज़ी बिजेनस के मैनेजिंग एडिटर अनिल सिंघवी भी इस कार्यक्रम में हिस्सा ले रहे हैं. बीएसई ब्रोकर फोरम की वेबसाइट पर स्पीकर्स की पूरी लिस्ट और यू-ट्यूब लिंक मुहैया है.

रेटिंग: 4.41
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 708
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *