विदेशी मुद्रा व्यापार प्रणाली

बड़ी कंपनियों के शेयर खरीदना

बड़ी कंपनियों के शेयर खरीदना
Laxmi Organic Industries shares made a lukewarm listing on the stock exchanges today, buy managed to dodge the weak market sentiment.

Coca-Cola Co (KO)

Coca-Cola शेयर (KO शेयर) (ISIN: US1912161007) के बारे में। आप इस पृष्ठ के अनुभागों में से किसी एक में जा कर ऐतिहासिक डेटा, चार्ट्स, तकनीकी विश्लेषण तथा अन्य के बारे में और अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

Coca-Cola Co समाचार

Investing.com - Coca-Cola (NYSE:KO) Femsa ने बुधवार को तीसरी तिमाही के नतीजों में विश्लेषकों के अनुमानों को चूक हुई और आय ने सर्वोच्च करा. कंपनी ने आय प्रति स्टॉक Mex$0.26.

लिज़ मोयर द्वारा Investing.com - बड़ी कंपनियों से आय रिपोर्ट की बड़ी कंपनियों के शेयर खरीदना बाढ़ के बीच अमेरिकी शेयरों में उतार-चढ़ाव रहा, आज की समापन घंटी के बाद रिपोर्ट करने के लिए बड़ी तकनीक के साथ। 9:39.

पीटर नर्स द्वारा Investing.com - मंगलवार, 25 अक्टूबर को प्रीमार्केट ट्रेड में फोकस में स्टॉक। कृपया अपडेट के लिए रिफ्रेश करें। UPS (NYSE:UPS) पार्सल सेवा द्वारा तीसरी तिमाही में.

Coca-Cola Co विश्लेषण

पिछले सप्ताह, दिग्गज निवेशक वॉरेन बफेट की कंपनी, बर्कशायर हैथवे (NYSE:BRKa) ने सुरक्षा विनिमय आयोग के साथ अपनी पहली-तिमाही फाइलिंग जमा की, जिसमें इसकी होल्डिंग में किए गए बदलाव.

बफेट 92 साल की उम्र में S&P 500 से बेहतर प्रदर्शन करते रहते हैं ओमाहा के ओरेकल (NYSE:ORCL) ने इस साल के भालू बाजार के बीच स्टॉक खरीदना जारी रखा है यहां InvestingPro के साथ उनके.

Coca-Cola's (NYSE:KO) $0.69 EPS और $11.1 बिलियन का राजस्व बीट उम्मीदें। सकारात्मक आश्चर्य ने एक पैटर्न बढ़ाया जिसमें दुनिया की सबसे बड़ी पेय निर्माता ने लगातार सातवीं तिमाही के.

Coca-Cola Co कंपनी प्रोफाइल

Coca-Cola Co कंपनी प्रोफाइल

  • प्रकार : इक्विटी
  • बाज़ार : यूनाइटेड स्टेट्स
  • आईसआईन : US1912161007
  • सीयुसआईपी : 191216100

The Coca-Cola Company, a beverage company, manufactures, markets, and sells various nonalcoholic beverages worldwide. The company provides sparkling soft drinks; flavored and enhanced water, and sports drinks; juice, dairy, and plant–based beverages; tea and coffee; and energy drinks. It also offers beverage concentrates and syrups, as well as बड़ी कंपनियों के शेयर खरीदना fountain syrups to fountain retailers, such as restaurants and convenience stores. The company sells its products under the Coca-Cola, Diet Coke/Coca-Cola Light, Coca-Cola Zero Sugar, Fanta, Fresca, Schweppes, Sprite, Thums Up, Aquarius, Ciel, dogadan, Dasani, glacéau smartwater, glacéau vitaminwater, Ice Dew, I LOHAS, Powerade, Topo Chico, AdeS, Del Valle, fairlife, innocent, Minute Maid, Minute Maid Pulpy, Simply, Ayataka, BODYARMOR, Costa, FUZE TEA, Georgia, and Gold Peak brands. It operates through a network of independent bottling partners, distributors, wholesalers, and retailers, as well as through bottling and distribution operators. The company was founded in 1886 and is headquartered in Atlanta, Georgia.

आय विवरण

विश्लेषक मूल्य लक्ष्य

औसत66.61 ( +3.51 % ऊपर )
उच्च77
निम्न59
क़ीमत64.35
विश्लेषकों की संख्या23

तकनीकी सारांश

ट्रेंडिंग शेयर

ट्रेंडिंग शेयर

KO टिप्पणियाँ

जोखिम प्रकटीकरण: वित्तीय उपकरण एवं/या क्रिप्टो करेंसी में ट्रेडिंग में आपके निवेश की राशि के कुछ, या सभी को खोने का जोखिम शामिल है, और सभी निवेशकों के लिए उपयुक्त नहीं हो सकता है। क्रिप्टो करेंसी की कीमत काफी अस्थिर होती है एवं वित्तीय, नियामक या राजनैतिक घटनाओं जैसे बाहरी कारकों से प्रभावित हो सकती है। मार्जिन पर ट्रेडिंग से वित्तीय जोखिम में वृद्धि होती है।
वित्तीय उपकरण या क्रिप्टो करेंसी में ट्रेड करने का निर्णय लेने से पहले आपको वित्तीय बाज़ारों में ट्रेडिंग से जुड़े जोखिमों एवं खर्चों की पूरी जानकारी होनी चाहिए, आपको अपने निवेश लक्ष्यों, अनुभव के स्तर एवं जोखिम के परिमाण पर सावधानी से विचार करना चाहिए, एवं जहां आवश्यकता हो वहाँ पेशेवर सलाह लेनी चाहिए।
फ्यूज़न मीडिया आपको याद दिलाना चाहता है कि इस वेबसाइट में मौजूद डेटा पूर्ण रूप से रियल टाइम एवं सटीक नहीं है। वेबसाइट पर मौजूद डेटा और मूल्य पूर्ण रूप से किसी बाज़ार या एक्सचेंज द्वारा नहीं दिए गए हैं, बल्कि बाज़ार निर्माताओं द्वारा भी दिए गए हो सकते हैं, एवं अतः कीमतों का सटीक ना होना एवं किसी भी बाज़ार में असल कीमत से भिन्न होने का अर्थ है कि कीमतें परिचायक हैं एवं ट्रेडिंग उद्देश्यों के लिए उपयुक्त नहीं है। फ्यूज़न मीडिया एवं इस वेबसाइट में दिए गए डेटा का कोई भी प्रदाता आपकी ट्रेडिंग के फलस्वरूप हुए नुकसान या हानि, अथवा इस वेबसाइट में दी गयी जानकारी पर आपके विश्वास के लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं होगा।
फ्यूज़न मीडिया एवं/या डेटा प्रदाता की स्पष्ट पूर्व लिखित अनुमति के बिना इस वेबसाइट में मौजूद डेटा का प्रयोग, संचय, पुनरुत्पादन, प्रदर्शन, संशोधन, प्रेषण या वितरण करना निषिद्ध है। सभी बौद्धिक संपत्ति अधिकार प्रदाताओं एवं/या इस वेबसाइट में मौजूद डेटा प्रदान करने वाले एक्सचेंज द्वारा आरक्षित हैं।
फ्यूज़न मीडिया को विज्ञापनों या विज्ञापनदाताओं के साथ हुई आपकी बातचीत के आधार पर वेबसाइट पर आने वाले विज्ञापनों के लिए मुआवज़ा दिया जा सकता है। इस समझौते का अंग्रेजी संस्करण मुख्य संस्करण है, जो अंग्रेजी संस्करण और हिंदी संस्करण के बीच विसंगति होने पर प्रभावी होता है।

IT कंपनियों के शेयर खरीदने और होल्ड करने की सलाह दे रहीं बड़ी ब्रोकरेज फर्म, जानिए स्टॉक्स के नाम

अलग-अलग ब्रोकरेज हाउस विभिन्न आईटी कंपनियों को अपना पंसदीदा मान रही हैं और वे इनमें निवेश करने की सलाह दे रही हैं.

अलग-अलग ब्रोकरेज हाउस विभिन्न आईटी कंपनियों को अपना पंसदीदा मान रही हैं और वे इनमें निवेश करने की सलाह दे रही हैं.

नई दिल्ली. कोरोना काल में आईटी कंपनियों (IT Companies) के शेयर्स में जबरदस्त ग्रोथ देखी गई है. ग्रोथ की यही रफ्तार इस साल भी नजर आ सकती है. अलग-अलग ब्रोकरेज हाउस विभिन्न आईटी कंपनियों को अपना पंसदीदा मान रही हैं और वे इनमें निवेश करने की सलाह दे रही हैं. खासतौर पर टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (Tata Consultancy Services) सबसे फेवरेट है.

देश की एक बड़ी ब्रोकरेज फर्म HDFC Securities ने TCS के लिए ऐड कॉल (Add Call) दी है. मतलब खरीदने की सलाह दी है. TCS से इस तिमाही में बड़ी डील करने के संकेत मिल रहे हैं. ब्रोकरेज फर्म ने शेयर के लिए 4,350 रुपये का टारगेट प्राइस रखा है. टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज का मौजूदा बाजार मूल्य 3,857 रुपये है. लगभग 11-12% बढ़ने या निर्धारित लक्ष्य तक पहुंचने के लिए स्टॉक एक साल का समय ले सकता है. इसी बीच, एमके ग्लोबल (Emkay Global) ने भी टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज के शेयर (TCS Share) 4,100 रुपये के लक्ष्य के लिए खरीदने की सलाह दी है. पिछले 12 महीनों में इस शेयर ने 24.4% रिटर्न दिया है.

कल IT के लगभग सभी शेयर गिरे

निफ्टी आईटी इंडेक्स (Nifty IT index) पिछले चार कारोबारी सत्रों में करीब 3 फीसदी चढ़ा है. हालांकि, टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (TCS), इंफोसिस (Infosys) और विप्रो (Wipro) सहित आईटी शेयरों पर बुधवार को बिकवाली का दबाव रहा. निवेशक तिमाही की अर्निंग रिपोर्ट्स को लेकर संशय में हैं.

निफ्टी आईटी इंडेक्स (Nifty IT index) 5 जनवरी को लगभग 2.5 फीसदी गिर गया. यह गिरावट 20 दिसंबर के बाद से सबसे बुरी इंट्राडे गिरावट है. TCS में 1.8 फीसदी, इंफोसिस में 2.8 फीसदी और विप्रो में 2.5 फीसदी की गिरावट रही. एचसीएल टेक, टेक महिंद्रा, एम.फैसिस, माइंड-ट्री, एलएंडटी इंफोटेक, एलएंडटी टेक्नोलॉजीज और कोफोर्ज भी 1.9 फीसदी से 3.1 फीसदी के बीच गिरे.

JM Financial Services Ltd. को लगता है कि भारतीय टेक कंपनियां अपने रेवेन्यू ग्रोथ मोमेंटम को जारी रखेंगी. इस ब्रोकरेज फर्म ने इन्फोसिस, टेक महिंद्रा, एससीएल टेक को बाय (Buy) रेटिंग दी है और TCS, विप्रो, जेन्सर टेक और एस एंड टी इन्फोटेक के लिए होल्ड (Hold) रेटिंग दी है.

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी| आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी|

Best Stocks: ये 4 सस्ते शेयर कराएंगे बड़ी कमाई, निवेशकों को मिल सकता है 22-44% तक रिटर्न

Best Stocks to Buy: शेयर बाजार में जरूरी नहीं है कि सिर्फ नामी गिरामी कंपनियों के शेयर ही अच्छा रिटर्न दिला सकते हैं.

Best Stocks: ये 4 सस्ते शेयर कराएंगे बड़ी कमाई, निवेशकों को मिल सकता है 22-44% तक रिटर्न

Laxmi Organic Industries shares made a lukewarm listing on the stock exchanges today, buy managed to dodge the weak market sentiment.

Best Stocks to Buy for High Returns: शेयर बाजार में जरूरी नहीं है कि सिर्फ नामी गिरामी कंपनियों के शेयर ही अच्छा रिटर्न दिला सकते हैं. बाजार में ऐसे कई सस्ते शेयर मौजूद हैं, जिनके फंडामेंटल मजबूत बने हुए हैं. उन कंपनियों का बिजनेस बेहतर है और उनमें अच्छी अर्निंग की संभावनाएं बनी हुई हैं. अगर ऐसे शेयरों की पहचान हो जाए तो इनमें आगे अच्छा रिटर्न मिल सकता है. हाई वैल्युएशन के चलते एक्सपर्ट आगे बाजार में करेक्शन से इनकार नहीं कर रहे.

ऐसे दौर में अगर आप भी निवेश को लेकर कनफ्यूज हैं तो बेहतर है कि छोटी र​कम के साथ उन शेयरों में निवेश करें जो सस्ते हैं, साथ में उनके फंडामेंटल मजबूत नजर आ रहे हों. हमने यहां ऐसे ही 100 रुपये से सस्ते कुछ शेयर चुने हैं. इनके बेहतर ग्रोथ आउटलुक को देखकर एक्सपर्ट और ब्रोकरेज हाउस भी इन्हें लेकर पॉजिटिव हैं. सस्ते शेयरों का फायदा यह भी होगा कि इस उतार चढ़ाव वाले बाजार में इनकी कीमतों पर बहुत ज्यादा असर नहीं होगा. वहीं ग्रोथ होने पर अच्छा रिटर्न दे सकते हैं.

Welspun India

वेल्सपन इंडिया देश की लीडिंग टेक्सटाइल कंपनी है. टेरी टॉवल बनाने के मामले में यह एशिया की दूसरी बड़ी कंपनी है. कंपनी अपने होम टेक्सटाइल प्रोडक्ट का बड़ा हिस्सा अलग अलग देशों में एक्सपोर्ट करती है. वेल्सपन इंडिया में ब्रोकरेज हाउस शेयरखान ने निवेश की सलाह देते हुए लक्ष्य 90 रुपये रखा बड़ी कंपनियों के शेयर खरीदना है. शेयर का करंट प्राइस 74 रुपये है. इस लिहाज से इसमें 22 फीसदी रिटर्न मिल सकता है. भारत का यूएस को टेरी टॉवल और बेड शीट एक्सपोर्ट जनवरी में 19 फीसदी और 47 फीसदी के हिसाब से बढ़ा है. लांग टर्म में कंपनी में अच्छभ् ग्रोथ दिख रही है. सरकार के PLI स्कीम का भी फायदा कंपनी को मिल सकता है. कंपनी का कर्ज कम हो रहा है. आगे मैनेजमेंट का ग्रोथ पर फोकस है.

Stock Market Holiday October 2022: त्योहारों के चलते 3 दिन नहीं होगी BSE-NSE पर ट्रेडिंग, कब-कब रहेगी स्टॉक मार्केट की छुट्टी?

Stock Investment: 1 महीने के लिए करना है निवेश, मिल सकता है 20% तक रिटर्न, इन 4 शेयरों में आने वाली है तेजी

जमना ऑटो इंडस्ट्रीज

जमना ऑटो इंडस्ट्रीज ऑटोमोटिव सस्पेंशन प्रोडक्ट मसलन पैराबोलिक, टैपर्ड लीफ स्प्रिंग, लिफ्ट एक्सल और एयर सस्पेंशन बनाने वाली कंपनी है. कंपनी मुख्य तौर पर कमर्शियल व्हीकल सेग्मेंट में ओरिजिनल इक्विपमेंट मैन्युफैक्चरर (OEM) है. OEMs की डिमांड बढ़ने से कंपनी को फायदा हो रहा है. जमना आटो का डोमेस्टिक OEM सेग्मेंट में मार्केट शेयर 68 फीसदी है. कंपनी का क्लाइंट बेस मजबूत है. ब्रोकरेज हाउस दोलत कैपिटल ने शेयर में निवेश की सलाह देते हुए लक्ष्य 99 रुपये रखा है. शेयर का करंट प्राइस 69 रुपये है. इस लिहाज से इसमें 45 फीसदी रिटर्न मिल सकता है. ब्रोकरेज का मानना है कि FY21-23E के लिए कंपनी का रेवेन्यू और EBITDA 48 फीसदी और 57 फीसदी CAGR के हिसाब से ग्रोथ कर सकता है.

ब्रोकरेज हाउस जियोजीत ने NCC में निवेश की सलाह देते हुए लक्ष्य 120 रुपये तय किया है. शेयर के करंट प्राइस 87 रुपये के लिहाज से इसमें 38 फीसदी रिटर्न मिल सकता है. NCC बड़ी कंपनियों के शेयर खरीदना देश की अच्छे तरह से डाइवर्सिफाइड बड़ी कंस्ट्रक्शन कंपनी है, जिसका फूटहोल्ड कस्ट्रक्शन सेक्टर के हर सेग्मेंट में है. एनसीसी का प्रदर्शन दिसंबर तिमाही में मिला जुला रहा है. रेवेन्यू में सालाना आधार पर 9.4 फीसदी की गिरावट रही है. वहीं EBITDA मार्जिन सालाना आधार पर 67bps सुधरकर 12.5 फीसदी रहा है. आर्डरबुक मजबूत है और यह 39,182 करोड़ रुपये का है. कंपनी को कुछ नए आर्डर भी मिले हैं और कई पाइपलाइन में है. आगे कंपनी की अच्छी ग्रोथ दिख रही है.

अरविंद लिमिटेड

अरविंद लिमिटेड गुजरात बेस्ड टेक्सटाइल मैन्युफैक्चरिंग कंपनी है. कंपनी कॉटन के शर्ट, डेनिम, निट्स और बॉटमवेट फैब्रिक्स बनाती है. ब्रोकरेज हाउस शेयरखान ने अरविंद लिमिटेड में निवेश की सलाह देते हुए लक्ष्य 95 रुपये तय किया है. करंट प्राइस के हिसाब से शेयर में 26 फीसदी रिटर्न मिल सकता है. लॉकडाउन के बाद कंपनी का ओवरआल बिजनेस दिसंबर तिमाही में गारमेंटिंग और डेनिम बिजनेस में 81 फीसदी और 89 फीसदी की रिकवरी दिखी है. टेक्सटाइल बिजनेस का मार्जिन 12.5 फीसदी हो गया है.

(नोट: हमने यहां जानकारी ब्रोकरेज हाउस की रिपोर्ट के आधार पर दी है. शेयर बाजार के जोखिम को देखते हुए निवेश के बड़ी कंपनियों के शेयर खरीदना पहले एक्सपर्ट की राय जरूर लें.)

Get Business News in Hindi, latest India News in Hindi, and other breaking news on share market, investment scheme and much more on Financial Express Hindi. Like us on Facebook, Follow us on Twitter for latest financial news and share market updates.

शेयर बाजार की वो गलती…जिससे डूब जाती है आम आदमी की पूरी रकम

Stock Market Tips-शेयर बाजार में कई बार पैसा लगाने वालों के लिए ये खबर बेहद जरूरी है. क्योंकि अक्सर कुछ गलतियां लोगों की पूरी कमाई को डूबो देती है.

शेयर बाजार की वो गलती. जिससे डूब जाती है आम आदमी की पूरी रकम

मनोज कुमार | Edited By: अंकित त्यागी

Updated on: Jan 17, 2022 | 1:22 PM

सोशल मीडिया पर मिली एक स्टॉक टिप (Stock Market Tips)ने रजत के लाखों रुपये डुबो दिए हैं. आप सोच रहे होंगे कि शायद उनके साथ कोई ऑनलाइन फ्रॉड हुआ होगा, लेकिन, ऐसा नहीं है रजत तो शेयर बाजार (Share Bazaar) में ऊंचा रिटर्न कमाने के चक्कर में बर्बाद हो गए. अब पूरी कहानी आप भी जानना चाहते होंगे तो हुआ दरअसल यूं कि शेयर बाजार में तेजी से मोटा मुनाफा कूटने के लिए रजत भी बेकरार थे. वे बस इस इंतजार में थे कि स्टॉक्स (Stocks) की कंही से कोई ऐसी टिप मिले कि वे पैसा लगाएं और पूंजी धड़ाधड़ दोगुनी-तिगुनी हो जाए. रजत के दिमाग में अभी खलबली चल ही रही बड़ी कंपनियों के शेयर खरीदना थी कि किसी ने एक व्हॉट्सऐप ग्रुप पर उन्हें जोड़ लिया और इस ग्रुप में एक स्टॉक में पैसा लगाने की राय दी गई. मोटे मुनाफे का पूरा गणित बता दिया गया.बस रजत ने आगापीछा सोचे बगैर झोंक दी मोटी पूंजी और बैठ गए कि अब होगा पैसा डबल, लेकिन ऐसा हुआ नहीं एक-दो दिन चढ़ने के बाद स्टॉक बुरी तरह गिरने लगा.

रजत की लगाई पूंजी का 80 फीसदी हिस्सा खत्म हो चुका है तो इससे ये सबक मिलता है कि बिना जांचे-परखे सोशल मीडिया के जरिए मिलने वाली टिप्स पर पैसा न लगाएं, लेकिन तमाम लोग इन हथकड़ों का शिकार हो जाते हैं. इनमें से ज्यादातर लोग ऐसे होते हैं जिन्हें बाजार की कम जानकारी होती है.

सेबी ने 6 लोगों को प्रतिबंधित किया

शेयर बाजार रेगुलेटर सेबी ने हाल में ही एक ऐसा मामला पकड़ा है जिसमें कुछ लोग अपने फायदे के लिए सोशल मीडिया के जरिए लोगों का पैसा शेयर बाजार में फंसाते थे. सेबी ने इस मामले में 6 लोगों को पूंजी बाजार में प्रतिबंधित भी कर दिया है.

सेबी ने जिस मामले में यह कार्रवाई की है, उसे लेकर जुलाई और अक्टूबर में शिकायत मिली थी. शिकायत में आरोप लगाया गया था कि कुछ लोग गैरकानूनी तरीके से पैसा कमाने के लिए ट्विटर और टेलीग्राम पर सलाह देकर शेयरों की कीमतों को बनावटी तौर पर प्रभावित कर रहे हैं तो आप समझ लीजिए कि कुछ इस तरह से आपको चूना लगाने की तैयारी होती है.

मोटे मुनाफे के नाम पर आपका पैसा डुबोने वाले लोग छोटी-छोटी कंपनियों को चुनकर उनके शेयरों को बड़ी मात्रा में खरीदने की सोशल मीडिया के जरिए सलाह देते हैं.

आमतौर पर सोशल मीडिया पर सलाह देने से पहले ये लोग कंपनी के शेयर खुद खरीदकर रख लेते हैं और सोशल मीडिया पर सलाह के बाद जब शेयर भागता था तो मुनाफा बटोर अपने शेयर बेचकर निकल जाते हैं.

इंस्टाग्राम, टेलीग्राम, व्हाट्सऐप, ईमेल, ट्विटर, फेसबुक जैसे हर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर इस तरह से ठगी का मायाजाल चलाया जा रहा है.

आपके पैसे के साथ खिलवाड़ करने वाले ये लोग अपने यहां एनालिस्ट्स और रिसर्चर्स के होने का भी दावा करते हैं..बस लोग यहीं फंस जाते हैं. झटपट पैसा कमाने के लालच में तमाम निवेशक इनके झांसे में फंस जाते हैं और अपनी गाढ़ी कमाई डुबा बैठते हैं.

बाजार के जानकार आम निवेशकों को इस तरह के लोगों से बचने की सलाह दे रहे हैं जो अपने फायदे के लिए किसी और को फंसा देते हैं. सैमको सिक्योरिटीज में इक्विटी रिसर्च हेड येशा शाह का कहना है कि महामारी के दौर में शेयर बाजार अच्छा रिटर्न दे रहा है और कई लोग खुद को मार्केट एक्सपर्ट मानने लगे है.

ऐसे ही कुछ तथाकथित मार्केट एक्सपर्ट जो सेबी में रजिस्टर भी नहीं हैं, सोशल मीडिया के माध्यम से निवेशकों को शेयर खरीदने या बेचने का ज्ञान दे रहे हैं. कुछ लोग तो अपने फायदे के लिए निवेशकों को ठग रहे हैं.

निवेशक भी मुनाफा चूकने के डर से ऐसे लोगों के झांसे में फंसकर नुकसान उठा रहे हैं. निवेशकों को ठगने वालों के खिलाफ सेबी तो कार्रवाई कर ही रहा है लेकिन निवेशकों को भी सावधान रहने की जरूरत है.

मनी 9 की भी यही सलाह है, लालच में आकर ऐसे लोगों के जाल में न फंसें जो अपने फायदे के लिए आपका पैसा मार्केट में फंसा दें. सोशल मीडिया से मिली सलाह पर शेयर बाजार में पैसा लगाना भी ठीक नहीं है. पैसा लगाने से पहले या तो निवेशक खुद रिसर्च करें या सेबी से मान्यता प्राप्त सलाहकार की मदद लें.

रेटिंग: 4.61
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 624
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *