सबसे अच्छे Forex ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म

चार्ट पैटर्न ट्रेडिंग

चार्ट पैटर्न ट्रेडिंग
5 मीटर EURUSD चार्ट पर सममित त्रिकोण

Share market chart kaise samjhe | शेयर मार्किट चार्ट एनालिसिस

Share market chart kaise samjhe– दोस्तों अगर आपको सही समय पर अच्छा मुनाफा कमाई करना है तो शेयर मार्किट चार्ट एनालिसिस करना जरुर आना चाहिए। इससे आप कम समय में ही अपने नुकशान को कम करके बहुत अच्छा रिटर्न कमाई कर चकते हो।

अगर आप बिना सीखे शेयर मार्केट में ट्रेडिंग या इन्वेस्टमेंट करते हो तो आप एकतरह से जुआ खेल रहे हो इससे आपको नुकशान होने की संभावना बहुत ज्यादा बढ़ जाता हैं। आपको पता होना चाहिए कब स्टॉक को खरीदना चाहिए और कब प्रॉफिट कमाई करके बेचना चाहिए।

इसी को जानने के लिए आपको Share Market के चार्ट को अच्छी तरह समझना बहुत जरुरी हैं। क्यूंकि इसी से ही आपको पता लगेगा स्टॉक ऊपर या नीचे जाने की कितने ज्यादा संभावना हैं।

Share market chart kaise samjhe

ज्यादातर रिटेल निवेशक किसी भी चार्ट को खोलते ही उनके मन में इस चार्ट में देखे किया और शुरु कहा से करे ये सवाल जरुर आता हैं। शेयर मार्केट में किसी भी चार्ट को समझने के लिए सबसे पहले बहुत ज्यादा अभ्यास की जरुरत पड़ती हैं। उसके बाद ही काम आएगा आपका विश्लेषणात्मक कौशल जो आपको प्रयोग करना होगा उस चार्ट में।

Chart का Trend देखना चाहिए:- किसी भी स्टॉक के चार्ट अच्छी तरह से समझने के लिए आपका सबसे पहला काम होना चाहिए उस शेयर के Trend किस तरफ जा रहा हैं। उसको अच्छी तरह से देखना बहुत जरुरी हैं। वैसे तो चार्ट में 3 तरह का Trend देखने को मिलेगा। इन तीनो Trend के अन्दर से कोई ना कोई एक Trend में वो स्टॉक या Chart जरुर फॉलो कर रहा होगा। और इन ट्रेन्ड में काम करने के तरीका भी अलग अलग होता हैं।

  • Up Trend:- इस Trend का मतलब है Higher Top and Higher Bottom। जब भी चार्ट इस Trend को फॉलो करेगा आपको लगातार स्टॉक सीढ़ी की तरह ऊपर जाते ही नजर आएगा। तब चार्ट पैटर्न ट्रेडिंग आपको हमेसा उस स्टॉक को खरीदना चाहिए।
  • Down Trend:- इस ट्रेन्ड का मतलब है Lower top Lower bottom। जब भी आपको चार्ट में Down Trend देखने को मिलेगा स्टॉक हमेशा सीढ़ी की तरह नीचे आता नजर आनेवाला हैं। इस समय हमेशा उस स्टॉक को बेचके चलना चाहिए।
  • Sideways Trend:- इस ट्रेन्ड में आपको स्टॉक ना ऊपर जाता नजर आएगा और ना ही नीचे जाता नजर आएगा। एक ही रेंज में ट्रेड होता नजर आनेवाला हैं। अगर आप नए हो तो एसी चार्ट वाले ट्रेन्ड शेयर में कभी भी आपको काम नहीं करना हैं। क्यूंकि इसमें दिशा पता नहीं चलते जिसकी वजह से आपका पैसा डूबने चार्ट पैटर्न ट्रेडिंग की संभावना बहुत ज्यादा बढ़ जाता हैं।

शेयर मार्किट चार्ट एनालिसिस

Chart का मजबूत:- किसी भी स्टॉक के Chart का मजबूत जानने के लिए आपको पहले उस स्टॉक का गतिविधि कैसा हैं उसको जानना बहुत जरुरी हैं। जब भी उस शेयर में Correction देखने को मिलते वो कितना बड़ा गिरावट होता है आपको देखना चार्ट पैटर्न ट्रेडिंग चाहिए।

यदि बहुत ज्यादा ऊपर नीचे होता दिखाई दिए आपको एसी शेयर से दूर रहना ही बेहतर हैं। अगर आपको लगता है धीरे धीरे ऊपर या नीचे जाने की Trend दिख रहा हैं उस स्टॉक में ट्रेन्ड की हिसाव से काम करोगे तो हमेसा फ़ायदा होते देखने को मिलेगा।

चार्ट का Momentum:- जिस भी स्टॉक के चार्ट में काम करना है उसका Momentum को ध्यान में रखके काम करना चाहिए। बहुत सारे ऐसे चार्ट आपको देखने को मिलेगा जिसका ऊपर जाने की स्पीड बहुत ही कम है।

अगर आप इस स्टॉक में काम करोगे तो आपको अच्छी मुनाफा कमाने के लिए बहुत समय लगनेवाला हैं। इसलिए आपको अच्छी Momentum चार्ट पैटर्न ट्रेडिंग वाले चार्ट को ही चुनना चाहिए।

Share-market-chart-kaise-samjhe

शेयर मार्केट चार्ट कैसे समझे और कमाई

रिस्क और रिवॉर्ड विश्लेषण:- अगर आप ऊपर दिए गए स्टेप को फॉलो करके कोई चार्ट को सेलेक्ट किया हो तो आपको उस चार्ट का Support और Resistant को ध्यान से देखना चाहिए। उसके बाद आपका Stop Loss वोही होना चाहिए जहा उस चार्ट ने हाल ही में कोई Support लेके ऊपर की तरफ गया हैं।

जहा पर Support लिया है स्टॉक ने, वहा आपको Stop Loss लगाना चाहिए। लेकिन ध्यान में रखना चाहिए आपका Stop Loss बहुत दूर ना हो। अगर आपको लगता है की रिस्क बहुत कम है और रिवॉर्ड बहुत ज्यादा मिल चकता है तभी आपको उस चार्ट में ट्रेड लेना चाहिए।

पतियोगी स्टॉक के चार्ट:- आप जिस भी स्टॉक के चार्ट को सेलेक्ट किया हो बाकि पतियोगी कंपनी को भी देखना चाहिए कैसा पदर्शन कर रहा हैं। आपको ध्यान में रखना चाहिए वो स्टॉक उस सेक्टर में बाकि पतियोगी कंपनी से बेहतर पदर्शन दिखा रहा हैं।

और साथ ही मार्केट यदि 1 पतिशत का मूवमेंट दिखाई उस स्टॉक की चार्ट में उससे ज्यादा की मूवमेंट दिखाने की क्षमता होना चाहिए। अगर आपको ऐसा होता दिखाई नहीं देते तो आपको दुसरे स्टॉक को खोजना चाहिए।

Maturity ट्रेन्ड चार्ट:- जब आप सभी स्टेप फॉलो कर रहे हो तब आपको अंतिम में देखना चाहिए चार्ट पैटर्न ट्रेडिंग कही वो स्टॉक कम समय में बहुत ज्यादा ऊपर तो चला नहीं गया। अगर आपको लगता है प्रॉफिट बुकिंग का समय आ चकता है। उस स्टॉक के चार्ट से आपको दूर रहना चाहिए।

चाहे न्यूज़ में कितना भी अच्छा उस स्टॉक के बारे में बताए। ज्यादा लालश के चक्कर में बिल्कुल नहीं पड़ना हैं। क्यूंकि वो स्टॉक पहले ही बहुत ज्यादा भाग चूका है आगे चार्ट में जितना बढ़ने की संभवाना होता है उतना ही ज्यादा गिरावट का मोहौल देखने को मिल चकता हैं। इसलिए Maturity ट्रेन्ड चार्ट से दूर रहना ही बेहतर हैं।

निष्कर्ष:-

शेयर बाज़ार में अगर आप ट्रेडिंग या इन्वेस्टमेंट करके कम समय में अच्छी मुनाफा कमाना चाहते हो तो ये 6 स्टेप आपको बहुत मदद करनेवाला हैं। उसी के साथ आपको बहुत ज्यादा अभ्यास की जरुरत होगी। जितना ज्यादा आप इन स्टेप चार्ट पैटर्न ट्रेडिंग को फॉलो करके अभ्यास करोगे उतना ही आपका ट्रेडिंग और इन्वेस्टमेंट निपुण होते जाएंगे। तभी आप किसी भी चार्ट को देखके अच्छा कमाई कर पाओगे।

आशा करता चार्ट पैटर्न ट्रेडिंग हु आपको Share market chart kaise samjhe शेयर मार्किट चार्ट एनालिसिस पोस्ट को पढ़के चार्ट के बारे में अच्छी तरह समझ गए होंगे। अगर आपके मन में अभी भी कोई सवाल है तो कमेंट में जरुर बताए। साथ ही शेयर मार्केट के महत्वपूर्ण जानकारी के साथ अपडेट रहने के लिए जरुर हमारे अन्य पोस्ट को पढ़ चकते हैं।

ट्रेंड लाइन के आधार पर कैसे समझें निवेश का पैटर्न?

ट्रेंड लाइन एक प्रकार का तकनीकी संकेत है, जो दर्शाता है कि शेयर का भाव किस दिशा में जा रहा है.

charts-getty

तुलनात्मक रूप में सपाट ट्रेंड लाइन दर्शाती है कि शेयर का बर्ताव सामान्य है और वह समान रुझान लंबे समय तक जारी रख सकता है.

जब बाजार में तेजी हावी होती है और यह अगली गिरावट का आधार तय करती है, तो ऐसी स्थिति में ट्रेड लाइन ऊपर बढ़ने के साथ-साथ हमेशा सपोर्ट स्तर प्रदान करती है, जो समय के साथ बदलता रहता है. इस स्थिति में ऐसी ट्रेंड लाइन के करीब की कीमतों पर खरीदारी करना फायदेमंद रहता है.

हालांकि, यदि सपोर्ट स्तर पार हो जाता है तो गिरावट दर्ज की जा सकती है. ऐसे में कारोबारियों को इसी ट्रेंड लाइन पर अपनी स्टॉप लॉस कीमत निर्धारित करनी चाहिए. इसी प्रकार गिरावट के हावी रहने पर सपोर्ट स्तर की जगह रेसिस्टेंस दर्ज किया जाता है. निवेशकों को इस दौरान बिक्री करनी चाहिए.

investment-analysis

एक खास बात है कि कारोबारियों को वॉल्यूम को नजरअंदाज नहीं करना चाहिए. ट्रेंड लाइन पर किस कीमत पर क्या चार्ट पैटर्न ट्रेडिंग वॉल्यूम रहता है, यह आंकलन आपको कई बातें समझा सकता है. अमूमन अधिक वॉल्यूम का अर्थ होता है कि शेयर का मौजूदा दौर (तेजी या कमजोरी) जारी रहने वाला है.

यदि ट्रेंड लाइन टूट जाए तो
यदि किसी शेयर की ट्रेंड लाइन टूट जाती है या खंडित हो जाती है, तो माना जाता है कि उस शेयर से निवेशकों की उम्मीद बदल गई है. गिरावट दर्शा रही ट्रेंड लाइन का टूटने का अर्थ है कि शेयर खरीदारी के संकेत दे रहा है और तेजी दिखाने वाले ट्रेंड लाइन टूटने का अर्थ है कि शेयर को बेचना बेहतर होगा.

दोनों ही मामलों में स्टॉप लॉस रखना चाहिए. इस तरह के मामलों में भी वॉल्यूम काफी महत्वपूर्ण हो जाती है और हलचल तब अधिक होगी जब ट्रेंड लाइन टूटने के साथ वॉल्यूम में भी इजाफा हो.

ट्रेंड लाइन से जुड़े एंगल

यदि किसी शेयर की ट्रेड लाइन में एकाएक तेजी देखने को मिलती है, तो इसका अर्थ है कि वह शेयर ऊफान पर है. यह भी संभव है कि शेयर की तेजी ज्यादा समय तक जारी न रहे. इसे एक उदाहरण के साथ समझते हैं.

Ril Chart

दिए गए चार्ट में रिलायंस इंडस्ट्रीज की ट्रेंड लाइन है. लाल निशान वाली ट्रेंड लाइन दिखा रही है कि शेयर में एकाएक तेजी आई है, मगर कुछ ही समय बाद यह फिसल गया, मगर शेयर की थोड़ी-बहुत तेजी जारी रहे.

दूसरी तरफ, तुलनात्मक रूप में सपाट ट्रेंड लाइन दर्शाती है कि शेयर का बर्ताव सामान्य है और वह समान रुझान लंबे समय तक जारी रख सकता है. इसके लिए रिलायंस इंडस्ट्रीज के चार्ट में हरी रेखा पर गौर करें.

हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें.

Binomo पर त्रिभुज पैटर्न - क्लासिक चार्ट पैटर्न जिसे आप अपने व्यापार में नियोजित कर सकते हैं

Binomo पर त्रिभुज पैटर्न - क्लासिक चार्ट पैटर्न जिसे आप अपने व्यापार में नियोजित कर सकते हैं

मूल्य चार्ट पर विभिन्न पैटर्न बनाता है। उन्हें सर्वश्रेष्ठ प्रविष्टि बिंदुओं की पहचान करने के लिए तकनीकी विश्लेषण उपकरण के रूप में उपयोग किया जाता है। त्रिकोण ऐसे चार्ट पैटर्न हैं। वे निरंतरता पैटर्न के समूह से संबंधित हैं, जिसका अर्थ है कि वे प्रवृत्ति के साथ विकसित हो रहे हैं।

आज का गाइड त्रिकोण पैटर्न के साथ व्यापार के विषय पर चर्चा करेगा।

त्रिकोण पैटर्न की पहचान

त्रिकोण पैटर्न की पहचान करने के लिए आपको पहले इसे चार्ट पर आकर्षित करना होगा। सबसे पहले, आपको न्यूनतम के रूप में 2 चढ़ाव और 2 ऊंचे स्थान खोजने होंगे। दो सीधी रेखाएँ खींचें। एक पंक्तियों को जोड़ेगा, दूसरी पंक्ति ऊँचाइयों को जोड़ेगा। अब, उन्हें उस बिंदु पर फैलाएं जहां वे एक दूसरे से मिलते हैं। आपको अपने चार्ट पर एक त्रिकोणीय आकार मिला है। आप लाइनों को खींचने के लिए सेगमेंट टूल का उपयोग कर सकते हैं। यह आपको Binomo प्लेटफ़ॉर्म पर ड्राइंग टूल्स में मिलेगा।

विभिन्न प्रकार के त्रिकोण पैटर्न

त्रिकोण तब बनता है जब आप कम से कम 2 चढ़ावों को एक लाइन से जोड़ते हैं और 2 उच्च एक दूसरे के साथ। वे प्रतिच्छेदन करते हैं और बनाते हैं सर्वोच्च त्रिभुज का। फिर भी, बाजार में एक स्थिति के आधार पर चार्ट पर त्रिकोण अलग-अलग दिखेंगे।

हम 3 प्रकार के त्रिकोण पैटर्न को भेद करते हैं: सममित त्रिकोण, आरोही त्रिकोण और अवरोही त्रिकोण।

अब, उनके बीच क्या अंतर है और वे कब बनाते हैं?

पहला प्रकार: सममित त्रिकोण

बाजार में तब होता है जब बैल और भालू तय नहीं कर सकते हैं कि किस रास्ते से जाना है। ऐसी स्थितियों में, जब आप मूल्य सलाखों के चढ़ाव और उच्चता में शामिल होते हैं, तो आपको लगभग सममित त्रिकोण प्राप्त होगा। इसका कोण कमोबेश एक ही लंबाई का होगा।

लेकिन बाजार कुछ समय के लिए है और फिर आप एक ब्रेकआउट का निरीक्षण कर सकते हैं। आप इस तरह के ब्रेकआउट के बाद एक मजबूत प्रवृत्ति की उम्मीद कर सकते हैं। इसके अलावा, यह शायद पहले की तरह ही होगा।

सममित त्रिकोण के साथ व्यापार कैसे करें? आपको ब्रेकआउट के तुरंत बाद बाजार में प्रवेश करना चाहिए। आपको प्रवृत्ति के साथ-साथ व्यापार करना चाहिए।

आपके लेनदेन की अवधि आपके द्वारा उपयोग किए जा रहे चार्ट के समय सीमा पर निर्भर करती है। 5-मिनट के चार्ट के साथ, आप लगभग 15 मिनट या उससे भी अधिक समय तक खुली स्थिति में रह सकते हैं।

5m EURUSD चार्ट पर सममित त्रिभुज

5 मीटर EURUSD चार्ट पर सममित त्रिकोण

दूसरा प्रकार: आरोही त्रिकोण

आरोही त्रिकोण आमतौर पर अपट्रेंड के दौरान विकसित होता है इसलिए यह एक तेजी का पैटर्न है। आप एक ट्रेंडलाइन ड्राइंग द्वारा चढ़ाव को जोड़ने में सक्षम हैं। और प्रतिरोध रेखा उच्चता से जुड़ जाएगी। नीचे दी गई तस्वीर पर एक नज़र डालें कि ऐसा त्रिकोण कैसा दिखता है।

आरोही त्रिकोण पैटर्न आमतौर पर अपट्रेंड की निरंतरता की घोषणा करता है। यही कारण है कि आपको उस समय एक लंबी स्थिति खोलनी चाहिए, जब मूल्य प्रतिरोध रेखा से बाहर हो जाता है। यदि आप 15-मिनट की मोमबत्तियों के अंतराल के साथ व्यापार कर रहे हैं तो लेनदेन न्यूनतम 5 मिनट तक चल सकता है।

5 मीटर गोल्ड चार्ट पर आरोही त्रिकोण

5 मीटर गोल्ड चार्ट पर आरोही त्रिकोण

तीसरा प्रकार: अवरोही त्रिकोण

अंतिम प्रकार के त्रिकोण पैटर्न को डाउनट्रेंड के दौरान पूरा किया जा सकता है। इस बार ए ट्रेंडलाइन को ऊँचाई को जोड़ता है और समर्थन रेखा चढ़ाव से जुड़ती है। नीचे स्क्रीनशॉट में आपको ऐसा त्रिभुज मिलेगा।

अवरोही त्रिकोण एक मंदी का पैटर्न है। जब आप इसे स्पॉट करते हैं, तो आप उम्मीद कर सकते हैं कि डाउनट्रेंड जारी रहेगा। इस प्रकार, आपको समर्थन स्तर से ब्रेकआउट के क्षणों में एक छोटी स्थिति खोलनी चाहिए। लेन-देन की अवधि आपके चार्ट की समय सीमा के साथ कड़ाई से संबंधित है और 5-मिनट के चार्ट समय सीमा के साथ आप 15 मिनट या अधिक की अवधि निर्धारित कर सकते हैं।

5m USDCHF चार्ट पर अवरोही त्रिकोण

5m USDCHF चार्ट पर अवरोही त्रिकोण

बिनोमो पर त्रिकोण के साथ व्यापार करने के लिए कुछ संकेत

त्रिकोण मूल्य पैटर्न हैं जो कम से कम दो चढ़ाव और दो उच्चता को जोड़कर बनते हैं। वे डाउनट्रेंड, अपट्रेंड, साथ ही साथ बाजारों में विकसित होते हैं। आमतौर पर, वे हमें बताते हैं कि पिछली दिशा जल्द ही जारी रहेगी।

आपका काम व्यापार में प्रवेश करने के लिए सबसे अच्छे क्षण को पहचानना है, जो तब होता है जब मूल्य त्रिकोण के किनारे से बाहर हो जाता है।

त्रिकोण पैटर्न के साथ व्यापार करते समय लंबे समय के फ्रेम का उपयोग करना एक अच्छा विचार है। कम चार्ट पैटर्न ट्रेडिंग से कम 5 मिनट के लिए मोमबत्तियों की अवधि निर्धारित करें। पैटर्न को पहचानना तब बहुत आसान हो जाएगा।

मूल्य की एक नई दिशा की पुष्टि करने के लिए आप कुछ संकेतकों का उपयोग कर सकते हैं। MACD इस कार्य के लिए एकदम सही होगा। ब्रेकआउट के बाद हिस्टोग्राम बढ़ेगा और एमएसीडी संकेतक की रेखाएं चार्ट पैटर्न ट्रेडिंग आगे अलग हो जाएंगी।

एमएसीडी सूचक के साथ त्रिभुज

त्रिकोण एमएसीडी संकेतक के साथ अच्छी तरह से काम करते हैं

Binomo डेमो अकाउंट के बारे में याद रखें। यह चार्ट पैटर्न और संकेतक के नए पैटर्न या संयोजन का प्रयास करने के लिए एक उत्कृष्ट स्थान है। बिनोमो प्लेटफॉर्म पर त्रिकोण पैटर्न के साथ अपने अनुभव के बारे में नीचे टिप्पणी अनुभाग में हमें बताएं।

कैंडलस्टिक चार्ट की सरल परिभाषा हिंदी में

कैंडलस्टिक चार्ट फाइनेंस में सबसे अधिक उपयोग किया जाने वाला चार्ट है जिसका इन्वेंशन 18 सताब्दी में एक जापानीस ट्रेडर Munehisa Homma ने किया था। कैंडलस्टिक चार्ट किसी सम्पति के भाव को विभिन कैंडल्स की सहायता से प्रदर्शित करता है ये कैंडल्स अलग अलग रंग ही होती है। विभिन विभिन रंगो की कैंडल्स से ग्राफ में एक पैटर्न बनता है जिसे देखकर ट्रेडर ,ट्रेडिंग डिसीजन लेते है।

कैंडलस्टिक चार्ट का उपयोग व्यापारियों द्वारा पिछले पैटर्न के आधार पर संभावित मूल्य आंदोलन को निर्धारित करने के लिए किया जाता है।

कैंडलस्टिक्स व्यापार करते समय उपयोगी होते हैं क्योंकि वे व्यापारी द्वारा निर्दिष्ट अवधि के दौरान चार मूल्य बिंदु (खुले, बंद, उच्च और निम्न) दिखाते हैं।

कई एल्गोरिदम कैंडलस्टिक चार्ट में दिखाए गए समान मूल्य की जानकारी पर आधारित होते हैं।

ट्रेडिंग अक्सर भावनाओं से तय होती है, जिसे कैंडलस्टिक चार्ट में पढ़ा जा सकता है।

कैंडलस्टिक चार्ट के घटक

OPEN HIGH LOW CLOSE

कैंडलस्टिक चार्ट के उपयोग करने के फायदे

  1. कैंडलस्टिक चार्ट अन्य चार्ट की तुलना में एक ट्रेडर को भाव के बारे अधिक जानकारी देता है जिससे ट्रेडिंग डिसीजन और मजबूत होता है।
  2. कैंडलस्टिक चार्ट टेक्निकल एनालिसिस में सबसे अधिक उपयोग किया जाने वाला चार्ट है जो सभी जगह फ्री में उपलब्ध है।
  3. कैंडलस्टिक चार्ट में कुछ पैटर्न्स बनते है जिनकी सहायता से सम्पति के ट्रेंड का पता चलता है।
  4. कैंडलस्टिक चार्ट में हम आसानी से सपोर्ट और रेजिस्टेंस ड्रा कर सकते है।

कैंडलस्टिक चार्ट के उपयोग करने के नुकसान

  1. कैंडलस्टिक चार्ट में चार्ट पैटर्न बनते है जो एक चार्ट को और जटिल बना देते है।
  2. बिना कैंडलस्टिक चार्ट पैटर्न की ज्ञान के बिना चार्ट को नहीं समझा जा सकता है।

एक्सेल में कैंडलस्टिक चार्ट कैसे बनाये

एक्सेल में कैंडलस्टिक चार्ट बनाने के लिए हमे किसी सम्पति की क्लोजिंग प्राइस ओपन प्राइस हाई और लौ एवं उसमे हुए दिन प्रतिदिन के बदलावों का समय के साथ डेटा चाहिए होगा।

डेटा कलेक्ट करने के बाद हमे डेटा को सेलेक्ट करना है और एक्सेल के इन्सर्ट बार पर क्लिक करना है उसके बाद हमे रेकमेंड चार्ट के ऑप्शन के ऊपर क्लिक करना है और कैंडलस्टिक चार्ट को सेलेक्ट कर लेना है।

रेटिंग: 4.39
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 667
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *